नेल्सन मंडेला सेवानिवृत्ति

Nelson Mandela Centre of Memory

“ मैं अब राजनीति में नहीं हूं, मैं दूर से चीज़ों को देख रहा हूं और जब लोग मेरे पास आकर कहते हैं कि, 'हम ऐसी परीस्थिति में क्या करें?' तो मैं कहता हूं, “नहीं, जो लोग राजनीति में हैं उनके पास जाओ, मैं अब राजनीति में नहीं हूं, मैं सेवानिवृत्त हो चुका हूं.”

नेल्‍सन मंडेला ने 1999 में अपनी सेवानिवृत्ति के बाद का समय कई जन काल्‍याणकारी कार्यों में समर्पित कर दिया. राष्ट्रपति का पद छोड़ने के कुछ महीनों के भीतर ही उन्‍होंने नेल्‍सन मंडेला फ़ाउंडेशन (NMF) की स्थापना की, जो कि राष्ट्रपति पद के उपरांत उनका कार्यालय जारी रखने के आज्ञा-पत्र वाला एक गैर-लाभकारी गैर-सरकारी संस्‍थान है.

NMF मुख्यालय

1994 में उन्होंने नेल्सन मंडेला बाल कोष, सुविधाविहीन बच्चों के जीवनोत्थान के उद्देश्य हेतु अनुदान संस्था की स्थापना की और 2003 में उन्होंने मंडेला रोड्स फाउंडेशन, स्नातकोत्तर छात्रवृत्ति कार्यक्रम के माध्यम से अफ़्रीका में अच्छे नेतृत्व को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य वाले NGO की स्थापना की.

NMF ने वह सब किया जिससे मंडेला धन जुटा सकते थे और जो उनके अन्य दो पुराने संगठनों के कार्य में बाधा नहीं डाले. मुख्य लक्षित क्षेत्रों में शिक्षा (दक्षिण अफ़्रीका के ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूलों के निर्माण से लेकर शिक्षा की विशिष्ट चुनौतियों के शोध तक), HIV/AIDS (शोध के समर्थन में वकालत से लेकर अनुदान एकत्रित करने तक) और 'शांति और सुलह' (अफ़्रीका में बुरूंडी में शांति प्रक्रिया के समर्थन से लेकर लोकतंत्रीकरण की खोज तक) थे.

2004 में, मंडेला ने घोषणा की कि वे अब सार्वजनिक जीवन से संन्यास लेंगे और उन्होंने राष्ट्रपति पद के उपरांत अपने कार्यालय को नेल्सन मंडेला स्मृति केंद्र में बदल दिया. इससे पहले कि वह पूरी तरह से सन्यास लेते और उस जीवन का आनंद उठाते जिसके वह पात्र थे, ऐसा करने के लिए और छः वर्ष शेष थे.

“मैं कुछ जटिल अंतर्राष्ट्रीय समस्‍याओं का समाधान निकालने का प्रयास करते-करते, 100 वर्ष की आयु का नहीं होना चाहता.”

मुझे न बुलाएं

नेल्सन मंडेला एक से अधिक बार सेवानिवृत्त हुए हैं.

उन्होंने दक्षिण अफ़्रीका के राष्ट्रपति के रूप में अपना एकमात्र कार्यकाल 1999 में समाप्त किया.

2004 में, अपने 86 वें जन्मदिन से कुछ सप्ताह पहले, उन्होंने एक भाषण दिया जिसमें वो सुविदित रूप से ‘सेवानिवृत्ति से सेवानिवृत्त हुए’. उस दिन से, 1 जून, उनकी डायरी और गतिविधियां ‘गंभीर और उल्लेखनीय रूप से कम हो गईं’.

उन्होंने यह भी कहा कि: “मेरा इरादा जनता से पूरी तरह छिपने का नहीं है, लेकिन मैं ऐसी स्थिति में रहना चाहता हूं जहां काम करने के लिए और समारोहों में भाग लेने के लिए मुझे बुलाए जाने की बजाय मैं आपको बुलाकर पूछ सकूं कि क्या मेरा स्वागत किया जाएगा. इसलिए मैं यही अपील करता हूं कि: मुझे न बुलाया जाए.”

बाद के वर्षों में ऐसे कई अवसर आए जब उनके कर्मचारियों को जनता को यह याद दिलाना पड़ा कि वह वास्तव में सेवानिवृत्त हो चुके थे और इसका आनंद लेने के लिए थोड़ा एकांत चाहते थे.

दुर्लभ दृश्य: नेल्सन मंडेला का 87वां जन्मदिन कई मायनों में विशेष था. उन्होंने इसे अपने जन्मस्थान वेज़ो में बिताया और इसे फ़िल्माया गया था.

उनको, उनकी पत्नी ग्रैसा माशेल, अन्य पारिवारिक सदस्यों और प्रोफ़ेसर जेक्स गेर्वेल (एक दीर्घकालीन सहयोगी और मित्र) को पूर्वी केप के भीतरी ग्रामीण इलाकों में दिन का आनंद उठाते समय उनके स्टाफ़ के एक सदस्य द्वारा फ़िल्माया गया था. श्री मंडेला, आराम मुद्रा में और स्ट्रॉ टोपी पहने हुए, अपने समय का अधिकांश हिस्सा उन बच्चों के साथ बातचीत में बिता रहे थे जो उस महापुरूष का सम्मान करने के लिए एकत्रित हुए थे जिसने विश्व मानचित्र पर वेज़ो को प्रतिष्ठित किया था.

"मैं स्वयं को अपने समाज के इन आयु वर्ग लोगों में से एक गिनूंगा: ग्रामीण आबादी में से एक; अपने देश के बच्चों और युवाओं के लिए चिंतित एक व्यक्तियों में से एक; और जब तक शक्ति है, विश्व नागरिक के रूप में सभी के बेहतर जीवन हेतु कार्य करने हेतु प्रतिबद्ध में से एक..."

यह आपके हाथों में है

लंदन के वेंबली स्‍टेडियम में एक समारोह आयोजित किए जाने के बीस वर्ष बाद, जिसमें नेल्‍सन मंडेला को मुक्त करने का आह्वान किया गया था, वे शहर के एक अन्‍य मंच पर खड़े थे और नई पीढ़ी से आह्वान कर रहे थे कि वे विश्व की सहायता में अपना योगदान दें.

यह बात 2008 में श्री मंडेला की आयु 90 वर्ष होने से बीस दिनों पहले की है, जब वे लोगों को याद दिला रहे थे कि गरीबी, जुल्‍म और बीमारियां अभी भी विश्व का विनाश कर रही हैं, “हमारा कार्य अभी पूरा नहीं हुआ है”.

“आज की रात हम घोषणा करते हैं कि जीवन के लगभग 90 वर्षों के बाद, अब समय आ गया है जब नए लोग यह बोझ उठाएं. अब यह आपके हाथों में है.”

उस क्षण से, यह नारा ‘यह अब आपके हाथों में है’ लोगों के लिए एक प्रेरक आह्वान बन गया कि अब वे श्री मंडेला की कमान संभालें और विश्व को एक बेहतर स्थान बनाने में अपना योगदान दें.

"आज की रात हम घोषणा करते हैं कि जीवन के लगभग 90 साल के बाद, अब समय आ गया है कि नए लोग यह बोझ उठाएं. अब यह आपके हाथों में है."

मेरे साथ बातचीत

नेल्सन मंडेला की इस इच्छा को ध्यान में रखते हुए कि युवा पीढ़ी को दूसरों का जीवन बेहतर बनाने के लिए थोड़ा प्रयास करना चाहिए, 2009 में उनके जन्मदिवस को मंडेला दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की गई. कुछ ही महीनों के भीतर संयुक्त राष्ट्र ने उनके जन्मदिन 18 जुलाई को नेल्सन मंडेला अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की. तब से यह दिन पूरी दुनिया में ऐसा दिन बन गया जिसमें लोगों और संगठनों को अपने आसपास के लोगों के लिए अच्छे कार्य करने हेतु प्रेरित किया जाता है.

तीन सफल मंडेला दिवस का आयोजन किया गया है और अब "हर दिन मंडेला दिवस बनाएं" की अपेक्षा है.

नेल्‍सन मंडेला स्‍मृति केंद्र

नेल्सन मंडेला फाउंडेशन को नेल्सन मंडेला के कार्यालय के रूप में तब स्थापित किया गया था जब 1999 में वे दक्षिण अफ़्रीका के राष्ट्रपति पद से सेवानिवृत्त हुए.

आरंभ में फाउंडेशन जोहानसबर्ग के उनके घर में स्थित था, जिसे नजदीक के एक नए भवन में ले जाया गया, जिसे आधिकारिक रूप से 6 मई 2003 को खोला गया.

2004 के उत्तरार्ध में इसका मुख्य कार्य श्री मंडेला की जीवनी और समय पर संग्रह का निर्माण करने और सामाजिक न्याय हेतु संवाद को प्रोत्साहित करने के लिए स्मृति और संवाद केंद्र में बदल गया.

जब उन्होंने 2004 में स्मृति और संवाद केंद्र खोला, तो उन्होंने कहा: "हम इसे सत्ता द्वारा दबाई गई स्मृतियों और कहानियों की पुनर्प्राप्ति के रूप में समर्पित करना चाहते हैं. जो न्याय का आह्वान है: वह आह्वान जिसे प्रोजेक्ट का आकार देने वाला सर्वाधिक महत्वपूर्ण प्रभाव होना चाहिए."

जब मंडेला 2010 के अंत में पूरी तरह से सेवानिवृत्त हो गए, तो नेल्सन मंडेला फाउंडेशन, नेल्सन मंडेला स्मृति केंद्र बन गया.

मेरे साथ बातचीत

नेल्‍सन मंडेला की सेवानिवृत्ति के उपरांत उनकी दूसरी प्रसिद्ध पुस्‍तक जल्‍दी ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सर्वाधिक बिकने वाली पुस्‍तक बन गई.

2010 में प्रकाशित, कनवर्सेशन विद माईसेल्‍फ एक प्रसिद्ध व्‍यक्तित्‍व के पीछे का व्यक्ति, एक स्‍वतंत्रता के नायक के पीछे के इंसान तक पहुंचाने वाली पहली साहित्यिक रचना बन गई.

यह पुस्‍तक इतिहासकार टिम कूज़ेन्‍स और मंडेला के पुराने साथी एवं मित्र अहमद कथराडा की सहायता से नेल्‍सन मंडेला स्‍मृति केंद्र की एक टीम द्वारा लिखी गई थी. यह पत्रों, डायरी, पुस्तिकाओं और साथ ही साथ बातचीत से उनके संग्रह में मौजूद उनके स्वयं के प्रत्यक्ष वक्तव्यों की बड़ी संख्या का संकलन शामिल है.

इस पुस्‍तक के विश्वव्‍यापी प्रकाशन के कुछ ही समय पहले श्री कथराडा और उनकी सबसे छोटी बेटी ज़िंड्जी मंडेला ने उन्‍हें इसकी एक अग्रिम प्रति भेंट की. नेल्‍सन मंडेला स्‍मृति केंद्र इन क्षणों की वीडियो रिकॉर्डिंग कराने में सफल रहा.

नेल्सन मंडेला, दक्षिण अफ़्रीकी साम्यवादी पार्टी नेता ब्लेड ज़िमांडे की ओर देख रहे हैं जो क्यूबा के राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो को अपनी कमीज़ उठाकर टीशर्ट पर छपी कास्त्रो और श्री मंडेला के चेहरे दिखा रहे हैं - 2 सितंबर 2001

नेल्सन मंडेला, दक्षिण अफ़्रीकी साम्यवादी पार्टी नेता ब्लेड ज़िमांडे के साथ हैं और ब्लेड, राष्ट्रपति फिदेल कास्त्रो को दिखाने के लिए अपनी कमीज उठा रहे हैं
बुरूंडी: 1999 में म्वालिमु जुलियस येरेरे के निधन के पश्चात, बुरूंडी शांति मिशन में सुविधाप्रदाता के रूप में उनकी जगह लेने के लिए सहमत हुए.

संयुक्त राष्ट्र की ओर से बुरूंडी संघर्ष में मध्यस्थता करने हेतु तंजानिया के पूर्व राष्ट्रपति पर सभी पक्षों का पर्याप्त भरोसा था और उन्होंने इस भूमिका को 1996 तक भली प्रकार निभाया. श्री मंडेला उन्हें भी स्वीकार्य थे.

उन्होंने येरेरे के संवाद मॉडल का अनुपालन किया और उसपर आगे बढ़े तथा उनके हस्तक्षेप के परिणामस्वरूप 28 अगस्त 2000 को बुरूंडी के लिए अरुषा शांति और सुलह समझौते पर हस्ताक्षर हुआ. अक्टूबर 2001 में जैकब जुमा द्वारा राष्ट्रपति का पदभार ग्रहण करने के बाद, श्री मंडेला अपना समर्थन और सलाह देते रहे.

तीन अफ़्रीकी सरकारों के बुरूंडी में शांति सेना भेजने के लिए सहमत होने के बाद, मार्च 2001 में, श्री मंडेला ने संयुक्त राष्ट्र के महासचिव कोफ़ी अन्नान को पत्र लिखा. उन्होंने इंगित किया कि हांलाकि बेल्जियम लागत की भरपाई करने के लिए सहमत हो गया है, फिर भी अगर किसी कमी की भरपायी संयुक्त राष्ट्र करेगा तो उन्हें बहुत खुशी होगी.

उन्होंने लिखा कि संधि वार्ता के आगे बढ़ने के बावजूद लोगों की हत्या जारी है: “हमने निर्दोष नागरिकों का नरसंहार रोकने के लिए सैन्य दस्ता (दक्षिण अफ़्रीका, घाना और नाइजीरिया से) बुरूंडी भेजने की व्यवस्था की है.”

वह भले ही ... पूर्व राष्ट्रपति और सशक्त रणनीतिकार हैं. लेकिन नेल्सन मंडेला को उनकी मजाक करने की आदत के लिए भी जाना जाता है.

प्रफुल्लता से नाचना: क्गालेमा मोत्लांथे, अफ़्रीकी राष्ट्रीय कांग्रेस के तत्कालीन महासचिव को एक विनोदी पत्र (2002)

हो सकता है कि वे एक स्वतंत्रता सेनानी, एक राजनैतिक कैदी, एक नोबल पुरस्कार विजेता, एक भूतपूर्व राष्ट्रपति और एक कुशल रणनीतिज्ञ रहे हों. लेकिन नेल्सन मंडेला अपनी विनोदपूर्णता के लिए भी विख्यात हैं.

2002 में अपनी वार्षिक छुट्टियों के दौरान उन्होंने अपने कॉमरेड को पत्र लिखने के लिए समय निकाला. श्री मंडेला ने पूर्व राजनीतिक बंदी और बाद में अफ़्रीकी राष्ट्रीय कॉन्ग्रेस के महासचिव क्गालेमा मॉटलांटे को पत्र लिखा.

उन्होंने ANC की 90वी वर्षगांठ के समारोह में टेलीविज़न पर देखे जाने का उल्लेख किया और “दो सुप्रसिद्ध दिग्गजों” को “भीड़ के साथ पूरे उत्साह के साथ नाचते देखा.”

“मुझे विश्वास है कि सभी देखने वालों ने देखा कि वे अपनी गति के साथ कितने फ़ुर्तीले अत्यधिक प्रभावित करने वाले थे. उन्होंने उनसे गरिमा और परंपरा के अनुसार नीरस ढंग से हिलने की अपेक्षा की होगी, जैसी कि हममें में से कुछ ने की थी.”

श्री मंडेला स्वयं भी समारोहों में मंच पर नृत्य करने के लिए दुनियाभर में सुविख्यात हैं.

आभार: कहानी

Photographer — Ardon Bar-Hama
Photographer — Matthew Willman
Photographer — Debbie Yazbek
Photographer — Benny Gool
Animation — Umlando WeZithombe
Research & Curation — Nelson Mandela Centre of Memory Staff

क्रेडिट: सभी मीडिया
कुछ मामलों में ऐसा हो सकता है कि पेश की गई कहानी किसी स्वतंत्र तीसरे पक्ष ने बनाई हो और वह नीचे दिए गए उन संस्थानों की सोच से मेल न खाती हो, जिन्होंने यह सामग्री आप तक पहुंचाई है.
Google अनुवाद करें
मुख्यपृष्ठ
एक्सप्लोर करें
आस-पास
प्रोफ़ाइल