मोने: अर्ज़ोंतेय में बर्फ़बारी का नज़ारा

Google Arts & Culture

लंदन की 'द नैशनल गैलरी' में मौजूद पेंटिंग की बारीकियां

Touch & Hold

मोने पेरिस के अर्ज़ोंतेय कस्बे में रहते थे. उन्होंने बर्फ़ीले मौसम में इस शहर की 18 अलग-अलग जगहों को पेंटिंग में दिखाया था. यह इस श्रृंखला की सबसे बड़ी पेंटिंग है, जिसमें मोने ने प्रमुख रास्ते सेंट डेनिस को दिखाया है.

यह सड़क उस रेलवे स्टेशन की ओर जाती है, जो अर्ज़ोंतेय को पेरिस से जोड़ता है. यह पेंटिंग उन्होंने स्टेशन की तरफ़ पीठ कर के बनाई है. वह स्टेशन में बैठकर सड़क के दूसरी ओर बहती सेन नदी को देख रहे थे.

एक गाड़ी बर्फ़ीले ट्रैक पर टेढ़ा-मेढ़ा रास्ता बनाते हुए गुज़री है. ऐसा लगता है जैसे गाड़ी के गुजरने से बर्फ़ पर बनी ये लकीरें दूर कहीं जाकर आपस में मिल जाती हैं. इससे पेंटिंग की गहराई और उसका मकसद समझने में मदद मिलती है.

इस पेंटिंग में रंग से बनी धब्बे जैसी आकृतियां शायद स्टेशन से आते-जाते लोगों की हैं. अर्ज़ोंतेय राजधानी से एक दिन के लिए घूमने आने वालों के बीच काफी लोकप्रिय था. गर्मियों के मौसम में यहां आने वाले लोगों की संख्या बढ़ जाती थी, क्योंकि लोग सेन नदी में नाव की सवारी करने के लिए आते थे.

मोने ने इस पेंटिंग में आस-पास के माहौल को अच्छी तरह दिखाने के लिए ज़्यादा बारीकियों का सहारा नहीं लिया. आसमान में ज़्यादातर नीले और स्लेटी रंग भरे गए हैं. इसमें सर्दियों की एक ऐसी सुनसान दोपहर दिखाई गई है, जब आसमान में बादल छाए हुए हैं.

बर्फ पर रंगों के हल्के धब्बे बनाए गए हैं, ताकि परछाई, रोशनी और बर्फ़ के खुरदुरेपन को साफ़ तौर पर दिखाया जा सके.

पेड़ों को ब्रश का कम से कम इस्तेमाल कर हल्के रंगों से रंगा गया है. इसमें लाल रंग से हल्की धारियां भी बनाई गई हैं.

पेंटिंग के दोनों किनारों पर बने पेड़, दूसरी चीज़ों के साथ मिलकर उसकी ख़ूबसूरती को और भी बढ़ा रहे हैं.

Snow Scene at Argenteuil by Claude MonetThe National Gallery, London

क्रेडिट: सभी मीडिया
कुछ मामलों में ऐसा हो सकता है कि पेश की गई कहानी किसी स्वतंत्र तीसरे पक्ष ने बनाई हो और वह नीचे दिए गए उन संस्थानों की सोच से मेल न खाती हो, जिन्होंने यह सामग्री आप तक पहुंचाई है.
इस कहानी को किसी मित्र के साथ शेयर करें
Google अनुवाद करें
मुख्यपृष्ठ
एक्सप्लोर करें
आस-पास
प्रोफ़ाइल